एक मेडिकल स्टोर के लाइसेन्स की कीमत सिलवासा में 10000 रुपये!

भ्रष्टाचार, भाईगीरी, हफ्ता-वसूली और माफियागिरी पर अंकुश लगाने में प्रशासक प्रफुल पटेल भी फैल! | Kranti Bhaskar image 1
VK-DAS-Hindi-news-in-silvassa

Silvassa: दादरा नगर हवेली में डाक्टर दास कितना भ्रष्टाचार कर रहे है इस मामले में पहले भी कई खुलासे हो चुके है, कई बार तो यह सवाल भी उठा की आखिर क्यों इस अधिकारी के भ्रष्टाचार पर दानह के नेता कुछ नहीं बोलते और क्या दानह के नेताओं को भी डाक्टर दास अपने भ्रष्टाचार का हिस्सा देकर उनके मुंह को बंद करने का इंतजाम किए हुए है? इस सवाल को पिछले अंक में क्रांति भास्कर ने उठाया लेकिन नेताओं के चमचों ने मुंह मोड़ने के अलावे कुछ नहीं किया!

फिलवक्त एक भ्रष्टाचार का ऐसा ही मामला सामने आया है। बताया जाता है की मेडिकल स्टोर के लिए डाक्टर दास 10000 रुपये की रिश्वत लेते है लेकिन उनपर भ्रष्टाचार का कोई मुकदमा नहीं चलता। बताया जाता है की डाक्टर दास अपने सहयोगी कर्मचारियों की मदद से उन मेडिकल स्टोर से उगाही करते है जो इस विभाग से नए लाइसेन्स की स्वीकृति लेने आता हो।

अब प्रशासक कुन्द्रा, विकास आयुक्त एवं स्वास्थ्य सचिव संदीप कुमार क्या जनता को यह बताने का कष्ट करेंगे की मेडिकल स्टोर के लिए जो दस हजार रुपये लिए गए है उनमे से प्रशासक आशीष कुन्द्रा और स्वास्थ्य सचिव संदीप कुमार को डाक्टर दास कितना दिया? या प्रशासक और विकास आयुक्त मुफ्त में डाक्टर दास के भ्रष्टाचार पर आंखे बंद कर के बैठे है। 

देखने वाली बात है की डाक्टर दास अगर एक मामूली मेडिकल स्टोर से 10000 रुपये लाइसेन्स के नाम पर वसूल रही है तो पूरे संध प्रदेश में अन्य मेडिकल स्टोर से और बड़ी बड़ी कंपनियों से कितने करोड़ो में वसूली होती होगी?

हालांकि इस मामले में जो पैसे डाक्टर दास द्वारा वसूल किए गए है वह कहां गए है और किस को दिए गए है इसका खुलासा भी जल्द होगा।