क्या दीव को नये साल के दिन ही आगजनी का तोह्फा मिला या कोई बडी साजिश है ?

क्या एशिया के सब से बडे बिच महोत्सव  “ फेस्टा दे दीव “ में * एक ही महिने के अंदर  इस  आगजनी से सुरक्षा की पोल खुली ।
दीव के  नागवा बिच  दीव महोत्सव-2015 “ फेस्टा दे दीव “ के टेंड मे आगजनी से लाखो रुपयो का नुकशान  16 टेंड  जलकर खाख  बडा  हात्सा  टला  ।
टेंड प्रसाशन  की गम्भीर लापरवाही से यह हात्सा हुआ  ? आग बुजाने  की कोई भी व्यवस्था नही थी ।
टेंड प्रसाशन  ने  अपनी गलती छुपाने के लिये प्रेस मिडीया को कवरेज़ करने से रोका  ।

दीव   संघ प्रदेश दीव एक सुन्दर अरबी समुद्र किनारे बसनेवाला समुद्रीय टापु है, संघ प्रदेश  दीव एक सुंदर पर्यटक  लुफ्त उठाने के लिये आते  है । दीव में  ढाई महीने का  दीव महोत्सव-2015  “ फेस्टा दे दीव “ चल रहा है, उन का उध्घाटन  रास्ट्पति   प्रणव  मुखर्जी ने करके देशी विदेशी पर्यटको आमंत्रित किया । इस    बिच महोत्सव  अंतर्गत समंदर  के  किनारे   60 टेंड लगाया गया था, यह  टेंड में सभी सुख सुविधा समपन्न   उपल्बध करवाने की जिम्मेदारी टेंड प्रसाशन की थी । नये साल के दिन सु बह 11 बज़े स भी पर्यटक   ब्रेक फास्ट करने के लिये  रेस्टोरंट में बेठे ही थे की, अचानक टेंड में भयंकर आग लगने से अफरा तफरी  मच गई,भयंकर आगने देखते ही देखते आग ने अपना रौद्र स्वरुप  दिखाते  हुए  16 टेंड  को अपनी भयंकर आग  की लपटो में 16 टेंड पर्यटको के  किमती  सामान, नगदी रुपये,लेपटोप,जवेरात   और कपडे भी जलकर खाख हो  गया । तुरंत दीव अग्निशमक  की 4 फायर फाईटर ने डेठ घंटे कडी मशकत करके  आग को काबु में किया गया  । इस आग में  पर्यटको एव्म 16 टेंड में रखे सामान को मिलाके आग में जलकर खाख हुई लाखो रुपये  का आर्थिक नुकशान उठाना पडेंगा । इस आग में 16 टेंड वाले पर्यटको दीव प्रसाशन दीव आरामग्रुह  में   प्राथमिक तौर पर रहने की व्यवस्था  कि  हुई  है ।
क्या  दीव को नये साल के दिन  ही आगजनी का तोह्फा मिला या कोई बडी साजिश है ?
क्या एशिया के सब से बडे बिच महोत्सव  “ फेस्टा दे दीव “ में * एक ही महिने के अंदर  इस  आगजनी से सुरक्षा की पोल खुली ।
क्या  टेंड प्रसाशन  की गम्भीर लापरवाही से यह हात्सा हुआ  ? आग बुजाने  की कोई भी व्यवस्था नही थी ।
क्या  टेंड प्रसाशन  ने  अपनी गलती छुपाने के लिये प्रेस मिडीया को कवरेज़ करने से रोका  ?
क्या  दमण-दीव,दा,न,ह पोलिस प्रसाशन इस आगजनी की निशपक्ष जांच करेंगा ?
क्या  दमण-दीव,दा,न,ह पोलिस प्रसाशन  टेंड प्रसाशन  की गम्भीर लापरवाही के लिये उन के उपर कोई कनुनी कार्यवाही  करेंगा ? या फिर आज दिन तक  दीव जिल्ले में जितने भी आगजनी की वारदातो की कोई भी रिपोर्ट  सार्वजनिक  नही हुई है,उसी  तरह  यह आगजनी की  भी रिपोर्ट  ठंडे  बसते में डाल दी  जायेंगी ?

ये भी पढ़ें-  DNH-DD : कोविड -19 की रोकथाम के लियें प्रशासन द्वारा अपनायी जा रही है (5 टी) की रणनीति।
daman news
daman news
daman news
daman news

इस आगजनी की सुचना  मिलते  ही  दीव समाहर्ता विक्रम सिन्ह मलिक,पोलिश अधिक्षक समीर शर्मा,उप समाहर्ता तनविर अहमद, एस.डी.पी.ओ, आशिश अनन,  सी,ओ. राकेश कुमार, तहेलदार चंद्रेश डी.वाजा,मत्स्य विभाग अधिकारी सुकल आंजनी, एवं बड़ी संख्या में पोलिस जवानो, सरपंचो,टलाटी मंत्री  ने उपस्थित रहकर आग को काबु में करने के प्रयास तेज   किया  और थाना प्रभारी सबास्टिन के मार्गदर्शन में पोलिस जवानो  ने पुरे इलाके को अपने  कबज़े  में  ले लिया ताकी कोई चोरी की वारदात को अंजाम नही दे सके ।

ये भी पढ़ें-  सत्येन्द्र कुमार के नेतृत्व में, स्वच्छता पखवाड़ा के तहत रैली एवं नाटकों से लोगों को किया गया जागरूक 
daman news
daman news

Bipin Bamania Diu- Festa De Diu Aag–photo -script