राज्य मंत्री रमनलाल पाटकर की अध्यक्षता में, आयोजित हुआ मेगा प्लेसमेंट कैंप।

valsad placement camp 2019 job fare
valsad placement camp 2019 job fare

शिक्षा विभाग से प्रेरित मेगा प्लेसमेंट कैंप का आयोजन रोफेल आर्ट्स एंड कॉमर्स कॉलेज, वापी, वलसाड जिले में पशु और आदिवासी विकास राज्य मंत्री रमनलाल पाटकर की अध्यक्षता में किया गया।

इस अवसर पर आदिवासी मंत्री राजन रमनलाल पाटिल ने राज्य सरकार की रोजगारोन्मुखी प्रणाली में उनकी भागीदारी के लिए रॉफेल कॉलेज को बधाई दी। उन्होंने कहा कि स्कूल कॉलेजों में शिक्षा में वृद्धि हुई है, राज्य सरकार ने इस उद्देश्य के लिए आयोजित शिविरों का लाभ उठाने का आग्रह किया है। विभिन्न कौशल विकास केंद्रों में एक तकनीकी प्रशिक्षण दिया जाता है, जिसके माध्यम से किसी भी कंपनी में नौकरी प्राप्त की जा सकती है। ग्रामीण कारीगरों के लिए न्यू गुजरात पैटर्न के तहत तालुका स्तर पर श्रम कल्याण बोर्ड द्वारा विभिन्न योजनाएं लागू की गई हैं। जिसके माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को उनके क्षेत्र के साथ-साथ गाँव के अन्य लोगों को स्वरोजगार में लगाया जाता है। उन्होंने यह भी कहा कि उम्मीदवारों को रोजगार प्राप्त करने के लिए विशेष व्यवस्था की गई है। नौकरी पाने के बाद, यह कहा जाता है कि वह अपना सर्वश्रेष्ठ कौशल दिखा कर अपनी स्थिति को ठीक कर सकता है।

ये भी पढ़ें-  सरिगांव और उमरगांव कि इकाइयों में श्रमिकों का शोषण।

वलसाड के विधायक भरतभाई पटेल ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा सभी को रोजगार देने के लिए रोजगार के अवसरों को एक साथ लाने के लिए शिविरों का आयोजन किया जाता है। पारडी विधायक कनुभाई देसाई ने कहा कि राज्य सरकार शिक्षा में रोजगार के साथ और काम को पूरा करने के लिए हर कंपनी में भर्ती के लिए विशेष शिविर लगे। शिक्षा विभाग के अतिरिक्त आयुक्त प्रजापति ने कहा कि राज्य सरकार उच्च शिक्षा छात्रों के लिए मेगा शिविरों के लिए रोजगार सृजन करने का प्रयास कर रही है। जोनल अधिकारी जोशी जी ने कहा कि प्लेसमेंट कैंप के दौरान साक्षात्कार देने के लिए प्रशिक्षण और अनुभव लेना आवश्यक है। कॉलेज के आचार्य हेमलबेन देसाई ने सभी का स्वागत करते हुए कहा कि इस शिविर के लिए 1300 से अधिक पंजीकरण किए गए हैं, जिसके लिए 80 कंपनियां रोजगार के लिए उपस्थित होंगी।

ये भी पढ़ें-  वलसाड, वापी और दमण, सिलवासा के बिल्डर टैक्स चोरी में अव्वल। 8 नहीं बल्कि 800 करोड़ की टैक्स चोरी का अनुमान!

इस अवसर पर, सुभाषभाई पांचाल, भरतभाई, ट्रस्टी बोर्ड के विभिन्न स्कूल, कॉलेज, आईटीआई के प्राचार्य उपस्थित थे।